loading...

किरायेदार भाभी को घोड़ी बनाकर चोदा

Indian sex stories, antarvasna hindi sex story bhabhi ko ghodi banaya.

रियलकहानी डॉट कॉम  पर हिन्दी सेक्स स्टोरी पसन्द करने वाले मेरे प्यारे दोस्तो, ये कहानी, kirayedar bhabhi ki chudai के बारे में है। मैं  दिईल्ली से, उम्र 18 साल,,एवरेज बॉडी,,रंग सांवला।

मैं अपनी किरायेदार भाभी के बारे में बता दूँ।

  • उनकी उम्र 27, हाइट 5.4 फुट.
  • रंग सावला,,फिगर 32-30-34 का.
  • कुल मिला कर एक सेक्स बम्ब.

 

जब वो हमारे मकान में रहने आई थीं,,उस समय मेरे दिल में उनके लिए ऐसा कुछ नही था। लेकिन समय के साथ सब कुछ बदल गया।

हुआ कुछ यूँ कि एक बार मेरे मम्मी:- पापा कुछ दिनों के लिए गाँव गए हुए थे, मम्मी भाभी को मेरा ध्यान रखने के लिए कह गई थीं।
रात के करीब 10 बजे मैं छत पर अपनी फोन पर gf से बात क़र रहा था, मुझे नही पता था कि भाभी मुझे सुन रही हैं।

अगले दिन सुबह जब उनके पति जॉब पर चले गए, मैं अपने कपड़े धो रहा था, भाभी मेरे पास आकर सीढ़ियों पर बैठ गईं और इधर उधर की बातें करने लगीं।

अचानक वो मुझसे पूछने लगीं:- तुम्हारी कोई gf है क्या?
मैं:- नही..
भाभी:- मुझसे झूट मत बोल,,कल रात में फ़ोन पर किस से बात कर रहा था?

  • मैं तो डर गया कि भाभी इस बात को मेरे पेरेंट्स से न बोल दें।
    मैं:- जब आपको पता है तो पूछ क्यों रही हो?
    भाभी:- कभी उसके साथ सेक्स किए हो?
  • मैं थोड़ा शर्मा गया।
  • वो बोलीं:- शर्मा मत,,मुझे दोस्त जैसा समझ।
  • मैं अब तक भाभी से खुल चुका था।
  • मैं:- नही।
  • भाभी:- क्यों,,तुम्हें ये सब करने का दिल नही करता।

‘करता तो बहुत है,,लेकिन डर भी लगता है।
वो बोलीं:- डर किस चीज का,,कहीं वो पेट से न हो जाए।
‘हूँ..’
वो बोलीं:- किसी औरत को gf बना लो।
मैं बोला:- कोई औरत मेरी gf क्यों बनेगी,,उसका पति भी तो होता है उसके लिए।
वो बोलीं:- मैं हूँ न,,मैं बनूँगी तुम्हारी gf।

मेरी तो बांछें खिल गईं,,मुझे भला क्या ऐतराज होता।
मैं बोला:- पहले मैं आपको चैक करूँगा।
वो बोलीं:- क्या चैक करोगे?
मैं बोला:- आपके प्राइवेट पार्ट्स..

अब तक मैं अपने कपड़े धो चुका था।
वो बोलीं:- यहीं चैक करोगे या कमरे में चलोगे?
‘कमरे में करूँगा!’

मैं भाभी को अपने रूम में ले गया और अन्दर से दरवाजा बंद कर दिया।
मैं बहुत खुश था,,मुझे चुत मिलने वाली थी।

हम दोनों ने एक:- दूसरे को बांहों में भर कर देर तक चिपकाए रखा, मैंने उनके होंठों को बहुत देर तक चूसा, मुझे बहुत अच्छा लग रहा था।
मेरा लंड खड़ा हो चुका था और उनकी चुत में घुसने को बेताब था।

मैंने उन्हें बिस्तर पर पटक दिया और उनके ब्लाउज को खोल दिया, भाभी के मम्मे बहुत अच्छे लग रहे थे।
यह कहानी आप रियलकहानी डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !

मैंने कुछ मिनट तक उनके चूचियोंको चूसा, वो मजे से सीत्कार करने लगीं।

वो ‘ऊऊ,,आआहह..’ क़र रही थी।

उनकी साड़ी उतार कर मैं उनके पेट पर किस करने लगा,,उन्हें भी मजा आ रहा था।

loading...

इसके बाद उनके पेटीकोट उतरने के बाद भाभी बिल्कुल नंगी हो गईं और फिर मैंने अपने कपड़े उतार दिए और बिल्कुल नंगा हो गया। वो मेरा लंड देख कर खुश हो गईं,,उन्होंने लपक कर मेरा लौड़ा पकड़ लिया और हिलाने लगीं।

मुझे बहुत अच्छा लग रहा था, मैं उनकी चुत में उंगली करने लगा।
उनकी चुत बहुत गद्देदार थी,,वो सिसकारियां ले रही थीं,,जिससे मुझे और जोश आ रहा था,,मजा भी आ रहा था।

वो बोलीं:- दीपक, अब और बर्दाश्त नही होता,,चोद दो मुझे..

अब मैं भी कण्ट्रोल से बाहर हो गया था, मैंने उन्हें बिस्तर पर लिटाया और उनकी गांड के नीचे पिलो लगा दिया और लंड को चुत की फांक पर सैट करके धक्के लगाया।
भाभी की चुत चुदी:- पिटी थी,,ऊपर से रस से भरी हुई थी तो ‘सटाक..’ से लौड़ा अन्दर घुस गया।

जो भी हो,,मैं खुद को जन्नत में महसूस कर रहा था। पूरे कमरे में उनकी मादक सिसकारियां गूंज रही थीं।
शायद वो कई दिनों के बाद लौड़े का मजा ले रही थीं ‘इस्स्स्…ह्ह्ह्ह्ह्,,आआअ..’

उनके मजे के कारण मेरे मुँह से भी सिसकारियां निकलने लगीं।

करीब 5 मिनट की चुदाई के बाद वो बोलीं:- चल, पोजीशन बदल लेते हैं।

अब मैं बिस्तर पर लेट गया और वो मेरे लंड को चुत में फिट करके बैठ गईं और ऊपर:- नीचे होने लगीं।

कुछ ही मिनट मैं वो झड़ गईं लेकिन मेरा अभी नही हुआ था।
मैंने उन्हें घोड़ी बना कर उनके पीछे से चुत में लंड डाल दिया और आगे:- पीछे करने लगा।

चुत एकदम लबालब पानी से तर थी तो मुझे भी ऐसा लग रहा था कि दलदल में लौड़ा पेल रहा होऊँ।

कुछ देर में मैं झड़ने वाला हो गया, मैंने उन्हें बताया,,तो वो बोलीं:- अन्दर ही डाल दो,,मैं दवा ले लूँगी।

बस ताबड़तोड़ धक्कों के साथ मैं चुत में ही झड़ गया।

उनको दम से चोदने के बाद वहीं उनके साथ बाजू में ढेर हो गया।

मैं उनकी गांड भी मारना चाहता था, पर वो राजी नही हुईं, बोलीं:- दर्द होता है।

उस दिन उनकी चुत को चार बार चोदा,,मुझे मजा आ गया।

इसके बाद उनके पति के जॉब पर जाने के बाद मैं उन्हें रोज चोदता था। अब वो हमारा घर छोड़ कर जा चुकी हैं।

तो दोस्तो, यह था मेरा पहला अनुभव उम्मीद है,,आप लोगों को पसंद आया होगा।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...