loading...

मौसी की गाँड की चुदाई – mausi ko choda

मैं रियलकहानी डॉट कॉम हिंदी सेक्सी कहानी का पुराना रीडर हूँ। मैं आज अपनी मौसी की चुदाई की एक घटना आपसे शेयर करना चाहता हूँ। mausi ki gand ki chudai.

मैं 5 फिट 9 इंच कद का लड़का हूँ बॉडी भी मस्त है। दुबई में जिम ट्रेनर हूँ। मेरे लंड का साइज़ काफी बड़ा है, और इतना गोरा की कोई भी मुंह में लने को तैयार हो जाये!
मेरी मौसी के ऊपर मेरी नजर बहुत पहले थी। उनकी गाँड का मैं दीवाना हूँ। मेरी मौसी मेरे मौसाजी की दूसरी वाइफ हैं। उनका रंग थोड़ा सांवला है, पर उनकी बॉडी जैसे कोई अप्सरा हो बड़े बड़े बूब्स और मटकती हुई गाँड.. दिल करे अभी चाट ले!

जब मैं दुबई से भारत आया तो मैं मौसी से मिलने गया।

उन्हें देख कर मेरे तो होश ही उड़ गए। उनकी गाँड पहले से दोगुनी बड़ी और लचीली लग रही थी। मेरा तो देखते ही खड़ा हो गया

उन्होंने मुझे देखते ही गले लगाया। गले लगते ही मेरे सीने से उनके बूब्स टच हुए। मेरा लंड तो झटका मार के खड़ा हुआ और वो शायद मौसी ने महसूस कर लिया।

  • थोड़ी स्माइल दी और कहा:- आ गया तू?
  • अब टाइम मिला है, मौसी से मिलने का?
  • मैं कहा:- मौसी। सॉरी थोड़ा लेट हो गया!
  • उन्होंने मुझसे चाय पानी पूछा
  • और कहा:- अब कहीं मत जाना।
  • तुझसे बहुत सारी बातें करनी हैं।

और वो मेरे लीए कुछ खाने को लेने रसोई में चली गई।

पर मेरे मन में तो एक ही चीज घूम रही थी कैसे मौसी को पटाऊँ और उनकी गाँड मारूँ। मेरा लंड पैंट में ही तम्बू बनाये हुए था।

तभी मौसी मेरे लीए मिल्क शेक बना के लाई और आते ही उनकी नजर मेरे पैंट के उभार पर गई। वो थोड़ी हंस दी। मैं शर्मा गया।
मौसी आकर मेरे पास बैठी और बात करने लगी। मुझसे पूछने लगी:- दुबई में क्या करता है, और वहां की लाइफ कैसी है?
मैं उन्हें बताया:- मैं जिम में ट्रेनर हूँ। मोटी लेडीज को स्लिम करने की ट्रेनिंग देता हूँ।

अचानक उनके चेहरे पे स्माइल आ गई। मैं समझ नहीं पाया।
तभी उन्होंने कहा:- तुझसे कोई बात करनी है, पर तू किसी को बताना मत!
मैं सोचा कि पता नहीं क्या बात करनी है। मैं भी हाँ कर दी:- ठीक है। मैं किसी को नहीं बताऊंगा!

तभी वो बोली:- तू जिम ट्रेनर है, तभी तुमसे पूछ रही हूँ। गलत मत समझना!
मैं कहा:- मौसी। डोंट वरी। आप बोलो क्या बात है?
उन्होंने कहा:- बेटा। कुछ महीनों से मेरे हिप्स बहुत बड़े हो गए हैं। इन्हें कम करने का कोई तरीका बता। बहुत परेशान हूँ इनकी वजह से.. हर आता जाता आदमी मुझे घूर कर देखता है। प्लीज बेटा कोई ऐसा व्यायाम बता जिससे मेरे हिप्स थोड़े कम हो जायें!

तभी मन ही मन एक आईडिया सोचा और उनसे कहा:- ठीक है। मैं आपको बताऊंगा पर आपको मेरे कुछ सवालों का जवाब देना होगा.. वो भी बिना शर्म किये?
तो उन्होंने हाँ भर दी।

Aur kahaniyan padhe:- Realkahani

मैं पूछा:- आप अपने हिप्स पर किसी आयल या क्रीम की मालिश करती हैं?
तो उन्होंने शरमाते हुए ना में सर हिलाया।
मैं उन्हें साफ़ कहा:- शर्माओ मत। आप मुझे अपना एक दोस्त समझो और बताओ!

तो उनकी थोड़ी शर्म खुली।
मैं पूछा:- आप और मौसाजी किस पोजीशन में सेक्स करती हो?
वो एक बार तो शरमाई। फिर धीरे से बोली:- उससे क्या फर्क पड़ता है?
मैं कहा:- आप शरमाती रहिये। मैं नहीं बताऊंगा ऎसे कुछ भी!

तब उन्होंने कहा कि वो तो हमेशा डॉगी स्टाइल में करते हैं। उनका फेवरेट स्टाइल है। हम हमेशा ऎसे ही करते हैं!
मेरी मौसी के मुंह से ऐसी बात सुन कर मेरा तो लंड काबू में नहीं रहा। झटके देने लगा और मौसी ने भी देख लिया।
मैं बात बदलते हुए कहा:- एक ही स्टाइल से सेक्स करने की वजह से आपके हिप्स पे एक्स्ट्रा फैट हो गया है। मैं आपके हिप्स देख कर उनके लीए एक्सरसाइज़ बताऊंगा।

loading...

वो थोड़ा झिझक के बोली:- नहीं!
मैं भी गुस्से में कहा:- आपकी मर्जी है.. दुबई में तो ये सब चलता है। आखिर आपकी प्रोब्लम सॉल्व ऐसे ही होगी। बाकी आपकी मर्जी!

मौसी थोड़ा सोच में पड़ गई।
मैं कहा:- इलाज के लीए तो प्रोब्लम देखनी जरूरी है। आप यही समझो कि मैं एक डॉक्टर हूँ और आपका चेक अप करने आया हूँ।
वो मान गई।

मैं देर न करते हुए उन्हें उल्टा लेटने को कहा। मौसी भी अपना नाड़ा खोल कर उल्टी लेट गई। उन्होंने पैंटी भी नहीं पहनी थी।
ओह्ह गॉड.. क्या गाँड थी! इतनी मस्त कि सारा दिन चाटता रहूं!

मैं अपना हाथ उनके चिकने चुतड़ पे फेरा.. एकदम मलाई थी!
शायद उन्हें भी मेरा टच अच्छा लगा।
मौसी की चुदाई की सेक्सी कहानी आप रियलकहानी डॉट कॉम सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!

तभी मैं उनके हिप्स को इधर उधर करके चेक करने का नाटक किया और अनजाने में मौसी की चुत को हाथ लगा दिया। उनके शरीर में करंट सा लगा जिसको मैं महसूस किया। शायद उनको मजा आ रहा था।
तभी मैं मौसी की चुत रगड़नी शुरु कर दी।
उन्होंने एक सेकण्ड के लीए विरोध किया। फिर शांत हो गई।

मैं समझ गया कि रास्ता साफ़ है। मैं उनके चुतड़ को चूमना और चाटना शुरू किया।
उनको अब मजा आ रहा था वो कुछ बड़बड़ा रही थी:- नहीं बेटा.. यह सही नहीं है!
पर मैं तो चाटने में मस्त था।

धीरे:-धीरे मैं मौसी की गाँड के छेद तक पहुंच गया और उसे अपनी जुबान से चाटना और चोदना शुरू किया।
क्या मस्त खुशबू आ रही थी उनके जिस्म से..

मौसी की सिसकरी निकलने लगी:- अह्ह्ह बेटा.. और जोर से.. उम्म्ह.. अहह.. हय.. याह.. आह्ह मेरा राजा.. चाट इसे!
वो मदहोश होकर बोले जा रही थी।

तभी मैं अपनी पैंट उतार कर उनके साथ 69 पोजीशन में आ गया। उन्होंने हाथ डाल के मेरे अंडरवियर से मेरा लंड निकाला और और चिल्ला के बोली:- बेटा। तेरा तो बहुत बड़ा है। तेरे मौसाजी का तो इससे आधा है, और जल्दी भी झड़ जाता है। मैं हमेशा प्यासी रह जाती हूँ। आज मेरी प्यास बुझा दे बेटा!
कह कर मेरा लंड पूरामुँह में ले लिया और चूसने लगी।

क्या मस्त चूस रही थी.. कभी किसी ने ऐसे नहीं चूसा था.. मैं तो उनका दीवाना बन गया।
मैं मौसी की गाँड और चुत लगातार चाट रहा था।

करीब 15 मिनट यह दौर चला और उन्होंने कहा:- बेटा। अब बरदाश्त नहीं होता। चोद दे अपनी इस गुलाम को.. बना दे मेरे चुत का भोसडा!
मौसी केमुँह से ये बातें सुन कर मुझ में और जोश आ गया। मैं कहा:- मौसी। आज तो तेरी प्यास बुझा के ही रहूँगा!

मैं अपने लंड का सुपारा मौसी की चुत पे रखा और एक झटके में पूरा का पूरा लंड अंदर पेल दिया।
उनकी चीख निकली ‘आआअ…..’
तभी मैं उनके होंठों पे अपने होंठ रख कर उनकी चीख को दबा दिया और रुक गया। एक मिनट में फिर मैं झटके देने चालु किये। मौसी भी चुतड़ उठा उठा कर मेरा जवाब दे रही थी और बड़बड़ा रही थी:- हाय मेरे राजा। आज तूने मुझे जन्नत का मजा दिया है.. अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह अह्हह्हह्ह आज से जो तू कहे.. तुझे मिलेगा! मैं आज से तेरी गुलाम!

ऐसी बात सुन कर मुझे जोश आ रहा था। मेरे झटके तेज हो रहे थे। इस बीच मौसी एक बार झड़ गई थी।
तभी मुझे लगा की मैं झरने वाला हूँ। मैं मौसी से कहा:- मेरा पानी पियोगी?
तो उन्होंने हाँ की। मैं झट से लंड चुत से निकाल कर उनकेमुँह में डाल दिया और सारा माल उनकेमुँह में ही छोड़ दिया। उनकामुँह मेरे वीर्य से भर गया। फिर भी वो सारा माल पी गई और मेरा लंड चाट के साफ किया और थैंक्स कहा कि मैं उनकी सालों की प्यास बुझाई।

उन्होंने कहा:- तुम्हें जो चाहिए। मांग लो.. आज से जो तुम्हें चाहिए। मिलेगा!
मैं मौसी से कहा:- मैं आपकी गाँड मारना चाहता हू।
पहले तो वो थोड़ी डरी और फिर हाँ कर दी और कहा:- तुम्हारे लीए तो जान भी हाजिर.. गाँड क्या चीज है!

फिर मैंने मौसी की गाँड भी मारी।

मौसी की चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी। कमेंट करें।
mausi ki gand ki chudai.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...